Religion

place mirror according to vastu for good luck and money

वास्तुशास्त्र में आईना एक बड़ी भूमिका निभाता है। यदि दर्पण को वास्तु के अनुसार घर में रखा जाए तो घर में पैसों से लेकर सुख-शांति तक सब कुछ बना रहता है। दर्पण को घर...

दुनिया में सबसे समृद्ध और सबसे अधिक दर्शनीय धार्मिक केंद्र है यहां

मल्लिकार्जुन का निवास, बारह ज्योतिर्लिंगों में से एक है, अमरावती का शिव मंदिर पंचाराममों में से एक यादगिरिगुट्टा, विष्णु लक्ष्मी नरसिंह का निवास स्थान है।

क्‍या आप जानते हैं महाभारत में कौन किसकेे अवतार थेे

यह सभी नायक किसी ना किसी परम पुरूष के अवतार थे, कोई देवताओं का तो कोई गंधर्व का तो खुद भगवान नेे भी कृष्ण अवतार रखकर इसमें भाग लिया था।

माघ मास में मंगलवार के व्रत से मनुष्य के समस्त दोष नष्ट हो जाते...

मंगलवार के व्रत से मनुष्य के समस्त दोष नष्ट होते हैं। पूजन के समय लाल पुष्पों को चढ़ाएँ, लाल वस्त्र धारण करें। अंत में हनुमान जी की पूजा करनी चाहिए तथा मंगलवार की...

इस वजह से आपको रोज़ सूर्य की आराधना करनी चाहिए

यदि आपके बहुत मेहनत करने के बाद भी यश नहीं मिलता तो इसका मतलब यही है कि सूर्य आपके विरुद्ध है, इनसे बचने के लिए रविवार को ये विशेष उपाय करें।

shani temple in gwalior – religion.bhaskar.com

मंदिर में स्थापित शनिदेव की मूर्तिमध्य प्रदेश में ग्वालियर के पास बने शनिदेव मंदिर का विशेष महत्व है। यह देश के सबसे प्राचीनतम शनि मंदिरों में से एक माना जाता है। शनिदेन के यहां...

इस मंदिर का गर्भ गृह अष्टकोणीय है इसकी आठों दीवारों में आठ दरवाजे हैं

गर्भगृह में जाने के लिए 25 सीढ़ियां चढ़नी पड़ती हैं। चंबल क्षेत्र के लोग इस मंदिर को सिद्ध मानते हैं।

Learn the name and mantra chanting to Saraswati Ji 108 leads to the mode...

सरस्वती जी के 108 नाम व मंत्र के इस जाप से बल बुद्धि विद्या की प्राप्ति होती है माँ सरस्वती के पूजन के समय यह श्लोक पढ़ने से मां की असीम कृपा प्राप्त होती है।...

गणेशजी के यह व्रत संकटों तथा दुखों को दूर कर इच्छाएं पूरी करने वाला...

इस दिन संकट हरण गणेशजी तथा चंद्रमा का पूजन किया जाता है, यह व्रत संकटों तथा दुखों को दूर करने वाला तथा सभी इच्छाएं व मनोकामनाएं पूरी करने वाला है।

शनिवार को कि गई इस पूजा से शनिदेव अति प्रसन्‍न होते हैं

मान्यता है कि पीपल की जड़, मध्य भाग व अगले भाग में क्रमश: ब्रह्मा, विष्णु और महेश का निवास होता है। यह श्री व सौभाग्य वृद्धि करने वाला माना गया है।